अजमेर जिला दर्शन एवं सामान्य ज्ञान | Rajasthan GK Ajmer Jila Darshan

Rajasthan GK Ajmer Jila Darshan: अजमेर जिला का दर्शन : Rajasthan gk Exams में राजस्थान से संबन्धित टॉपिक को शामिल किया जाता है उन्ही में से आज हम ajmer jila darshan के बारे में पढेगे जैसे अजमेर का उपनाम , अजमेर की स्थापना , अजमेर में मंदिर- मश्जिद ,  किले , झीले, तालाब, अजमेर का इतिहास इत्यादी |

अजमेर जिले का क्षेत्रफल 8481 वर्ग किलोमीटर है अजमेर जिले के शासक महाराजा पृथ्वीराज चौहान ने द्वितीय  युद्ध में पराजित होने पर यहाँ अपनी मुश्लिम शासन की स्थापना की थी

Table of Contents

अजमेर जिले की स्थापना कब हुई – Rajasthan GK Ajmer Jila Darshan

दोस्तों जैसे की आप को बता दू अजमेर जिले की स्थापना सन 1113 ईस्वी में हुई थी। और इसकी स्थापना महाराजा अजयराज चौहान ने की थी। और साथ में अजयराज चौहान ने अजमेर में अजयमेरु दुर्ग  भी बनाया। इसका प्राचीन नाम पृथ्वीपुर था (Rajasthan gk Exams)

अजमेर जिले के बहुत सारे उपनाम है। आइये देखते है कि अजमेर के कौनसे-कौनसे उपनाम है। 

1 अजयमेरु / पृथ्वीपुर

2 भारत का मक्का मदीना

3 राजस्थान का ह्रदय स्थल

4 राजस्थान का जिबलाटर

5 राजस्थान का नाका

6 राजपूताने की कुंजी

मुगल सम्राट का अजमेर के किले से किसी न किसी प्रकार से संबंध रहा है। आइये अब सभी अतिमहत्वपूर्ण तथ्य जो मुगल सम्राटों के अजमेर से रहे है।

➤अकबर

1अकबर ने अजमेर की पांच बार यात्रा की थी।

2 अकबर का किला / दौलत खाना / मैगजीन दुर्ग का निर्माण करवाया।

3 कोसी मीनार का निर्माण करवाया था।

4 गुजरात पर निरन्तर रखने के लिए अजमेर को मुख्यालय बनाया था।

➤ जहाँगीर 

1 अकबर किले में मुगल दरबार लगाया।

2 जहाँगीर महल का निर्माण करवाया (पुष्कर में)

3 चश्मा के नूर का निर्माण करवाया।

4 दौलत बाग का निर्माण करवाया।

5 पुष्कर के वराह मंदिर की मूर्ति को पुष्कर झील में फिकवा दी।

➤शाहजहाँ

1 आनासागर झील का निर्माण करवाया।

2 ज्येष्ट पुत्र दारा शिकोह का जन्म तारागढ़ दुर्ग में हुआ।

➤ओरंगजेब

दौराई का युद्ध  (अजमेर) जीता

अजमेर का निम्नलिखित में  प्रथम स्थान स्थान है। आइये इनको क्रम से पढ़ते है ये सभी Exam की दृष्टि से अतिमहत्वपूर्ण है।

1 राजस्थान का प्रथम हाईटेक डाकघर पुष्कर में है।

2 राजस्थान की प्रथम पुष्प मंडी गन्ना हेड़ा पुष्कर में है।

3 राजस्थान की प्रथम आयुर्वेद औषध प्रयोगशाला है।

4 राजस्थान की प्रथम हाईटेक सेक्युरिटी जेल घुघरा घाटी में है।

5 राजस्थान का प्रथम सिस्मोग्राम सयंत्र (भूकंपमापी) अजमेर में है।

अजमेर जिले के प्रमुख स्थल :- Rajasthan gk Exams

अजमेर जिले  में बहुत सारे प्रमुख स्थल है जो Exam में पूछे जाते है और खास करके उनके तथ्य पूछे भी पूछे जाते है। हमारी पूरी कोशिश है कि परीक्षा की दृष्टि से सारे महत्वपूर्ण तथ्य आपको प्राप्त हो सके। 

1. चश्मा ए नूर-

चश्मा के नूर का निर्माण जहाँगीर ने नूरजहां के लिए किया था यह तारागढ़ दुर्ग में बना हुआ एक महल है।

2. रूठी रानी का महल-

रूठी रानी का महल तारागढ़ दुर्ग में बना हुआ है यहाँ मालदेव की रानी उमादे रूठकर इसी महल में रही थी

3. घोड़े की मजार-

यह मीरान साहब के प्रिय घोड़े की मजार है जहाँ चने की दाल चढ़ाई जाती है। यह भी तारागढ़ दुर्ग में स्थित है

4. अब्दुला खान बोर बीबी का मकबरा-

यह अजमेर में बना हुआ सफेद संगमरमर के मकबरा है।

5. संतोष बावला की छतरी-

संतोष बावला की छतरी पुष्कर में स्थित है।

6. आतेड की छतरी-

यह दिगम्बर समाज की अजमेर में स्थित है।

7. पदमा डेयरी-

 पदमा डेयरी राजस्थान की प्रथम डेयरी है

8. बापूगढ़ / बजरंगगढ़-

बापूगढ़ या बजरंगगढ़ का निर्माण मराठा सरदार बापू जी सिंधिया ने किया था।

9. हाथी भाटा-

राजस्थान में दो हाथी भाटा है जो अजमेर और टोंक में है।

10. देश की एक मात्र बाल संसद-

देश की एक मात्र बाल संसद तिलोनिया गाँव अजमेर में स्थित है।

11. जुबली क्लॉक टावर

यह सन 1886-87महारानी विक्टोरिया की स्मृति में अजमेर रेलवे स्टेशन में बनाया गया।

12. मेयो कॉलेज-

मेयो कॉलेज में 1875 में अजमेर दरबार लगा था। इनका उद्देश्य राजस्थान के राजाओं तथा राजकुमारों को अंग्रेजी शिक्षा देना। इसके प्रथम प्राचार्य ओलिवर सेंट जॉन थे। इसके प्रथम विद्यार्थी मंगल सिंह अलवर के थे।

13. संस्कृत कंठाभरण पाठशाला-

इसका निर्माण विग्रहराज चतुर्थ / वीसलदेव चौहान ने करवाया था जिसे तुड़वाकर कुतुबदीन ऐबक ने  ढाई दिन के झोपड़े का निर्माण करवाया। वर्तमान में यह एक मस्जिद है जो 16 खम्बों पर खड़ी है।

14. जिनदत्त सूरी का मंदिर-

यह एक जैन संप्रदाय का मंदिर है जिसे दादा बाड़ी भी कहते है।

13. बघेरा का तोरण द्वार-

बघेरा का तोरण द्वार ढोलामारू के विवाह का साक्षी है।

15. टुकड़ा का मकबरा

टुकड़ा का मकबरा किशनगढ़ में स्थित है।

16. टॉडगढ़ दुर्ग-

इसका निर्माण कर्नल जेम्स टॉड ने करवाया था यह बोरासवाड़ा गाँव मे स्थित है इसे भीमगढ़ भी कहा जाता है।

 

Rajasthan GK Online Quiz Test In Hindi || Most Question &Answer the Prepartion Of Exam

अजमेर जिले  में प्रमुख मंदिर

अजमेर जिले  में बहुत सारे प्रमुख मंदिर है जो Exam में पूछे जाते है और खास करके उनके तथ्य पूछे भी पूछे जाते है। हमारी पूरी कोशिश है कि परीक्षा की दृष्टि से सारे महत्वपूर्ण तथ्य आपको प्राप्त हो सके। 

1. सावित्री मंदिर / सरस्वती मंदिर-

यह रत्नगिरि पहाड़ी पर पुष्कर में स्थित है।

2. वराह मंदिर-

वराह मंदिर की निर्माता अर्णोराज है जहाँगीर ने इसकी मूर्ति को तुड़वाकर पुष्कर में फिकवा दिया था। इसका पुननिर्माण शक्तिसिंह ने करवाया था। यह पुष्कर में स्थित है।

3. नवग्रह मंदिर

नवग्रह मंदिर किशनगढ़ अजमेर में स्थित है।

4. काचरिया मंदिर-

काचरिया मंदिर किशनगढ़ अजमेर में स्थित है।

5. सोनी जी की नसिया-

यह एक जैन मंदिर है जो ऋषभदेव/आदिनाथ को समर्पित है।

6. ब्रह्मा जी का मंदिर

ब्रह्मा जी का मंदिर पुष्कर में स्थित है। यहाँ कार्तिक पूर्णिमा को मेला लगता है जोसको मेरवाड़ा का कुम्भ या सबसे रंगीन मेला भी कहते है। यह विश्व का एक मात्र ब्रह्मा जी का मंदिर है जिसकी विधिवत रूप से पूजा की जाती है।

7. रंगनाथ जी का मंदिर-

यह पुष्कर में द्रविड़ शैली में बना हुआ मंदिर है। जिसका निर्माण सेठ पूरनमल ने करवाया था। यह वैष्णव सम्प्रदाय का भगवान विष्णु का समर्पित मंदिर है।

8. खोड़ा गणेश मंदिर-

खोड़ा गणेश मंदिर किशनगढ़ में स्थित है।

9. नवग्रह मंदिर

नवग्रह मंदिर किशनगढ़ में स्थित है इसमें नो ग्रह स्थापित हैयह इस तरह का एक मात्र मंदिर है।

10. सलेमाबाद  (निम्बार्क सम्प्रदाय)

सलेमाबाद निम्बार्क संप्रदाय की प्रमुख पीठ है। जहां राधा और कृष्ण दोनों की पूजा होती है। यहां राधा अष्टमी को भाद्रपद शुक्ल 8 को मेला लगता है। इस पीठ के संस्थापक परशुराम जी है।

11. खोबरानाथ मंदिर-

यह शनिदेव का मंदिर है। इस मंदिर का उल्लेख शाहजहाँ की पुत्री जहाँआरा की पुस्तक मुनिसल अरवाह में मिलता है।

12. खुडियावास (अजमेर)-

खुडियावास में बाबा रामदेव जी का मंदिर है। जिसे छोटा रामदेवरा भी कहते है।

 

संज्ञा किसे कहते है और भेद कितने प्रकार के होते है

आइये अब अंत मे अजमेर जिले से जुड़े कुछ और के महत्वपूर्ण तथ्य जान लेते है जो अतिमहत्वपूर्ण है। Fact Of Ajmer

  • अजमेर उत्तर भारत का प्रथम साक्षर जिला 1993 में  घोषित हुआ था।
  •  मंडौती परियोजना अजमेर जिले की परियोजना है।
  •  आनासागर झील भी अजमेर में है।
  •  एकीकरण में 26 वाँ जिला अजमेर है।
  •  कृष्णा मील ब्यावर अजमेर में है।
  •  फेलसफार का सर्वाधिक उत्पादन अजमेर में होता है।

निष्कर्ष :

.आज  की पोस्ट में आपने राजस्थान जिला दर्शन की श्रखला में अजमेर  जिला दर्शन Rajasthan GK Ajmer Jila Darshan की सम्पूर्ण जानकारी हासिल की है इसमे आपने Ajmer ke upnaam , Ajmer ki sathapana, history of ajmer को पढने की कोशिश की है.

Leave a Comment

Your email address will not be published.